ताज़ा खबर
 

शुरुआती कारोबार में रिकॉर्ड में 57.74 अंक से गिरकर 30,524.86 पर हुआ सेंसेक्स

लगातार दो दिन नये रिकार्ड बनाने के बाद आज घरेलू शेयर बाजार में कुछ थकान महसूस की गई और सेंसेक्स रिकार्ड ऊंचाई से नीचे आ गया।
Author मुंबई | May 17, 2017 11:37 am
सेंसेक्स में बढ़त

लगातार दो दिन नये रिकार्ड बनाने के बाद आज घरेलू शेयर बाजार में कुछ थकान महसूस की गई और सेंसेक्स रिकार्ड ऊंचाई से नीचे आ गया। निवेशकों ने मुनाफा वसूली पर ध्यान दिया जिससे सेंसेक्स 57.74 अंक गिरकर 30,524.86 अंक पर आ गया। एशियाई बाजारों में भी गिरावट के संकेत रहे। कारोबार की शुरच्च्आत में 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक पहले 30,620.72 अंक की नई  ऊंचाई को छू गया लेकिन जल्द ही यह पिछले दिन की 30,591.55 अंक के रिकार्ड से नीचे उतरते हुये पिछले दिन के बंद की तुलना में 57.74 अंक यानी 0.18 प्रतिशत गिरकर 30,524.86 अंक पर आ गया।

पिछले दो सत्रों में सेंसेक्स में 394.45 अंक बढ़ा है। बंबई शेयर बाजार में आज एफएमसीजी, पूंजीगत सामान, स्वास्थ्य देखभाल, बैंकिंग और सार्वजनिक उपक्रमों के समूह सूचकांक में गिरावट रही। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) में भी शुरुआती कारोबार में निफ्टी 9,521 की ऊंचाई छूने के बाद 22.55 अंक यानी 0.23 प्रतिशत गिरकर 9,489.70 अंक पर आ गया। कारोबारियों के मुताबिक रिकार्ड ऊंचाई पर कारोबारियों और निवेशकों की बिकवाली से और एशियाई बाजारों में भी गिरावट से धारणा कमजोर पड़ी है। निवेशकों में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की आर्थिक सुधारों को आगे बढ़ाने की क्षमता को लेकर चिंता बढ़ी है।

कारोबार के दौरान आज आईटीसी लिमिटेड, डा. रेड्डी, विप्रो, सन फार्मा, हिन्दुस्तान यूनिलीवर, गेल, स्टेट बैंक, अदाणी पोर्ट्सद्व इनफोसिस, मारच्च्ति सुजुकी और रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में 1.22 प्रतिशत तक गिरावट रही। एशियाई बाजारों में आज हांग कांग का हेंग सेंग सूचकांक 0.22 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट सूचकांक 0.01 प्रतिशत गिर गया। जापान का निक्केई सूचकांक भी 0.49 प्रतिशत घट गया। उधर, अमेरिका का डाऊ जोंस इंडस्ट्रियल एवरेज कल कारोबार की समाप्ति पर 0.01 प्रतिशत घट गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on May 17, 2017 11:37 am

  1. No Comments.
सबरंग