ताज़ा खबर
 

एसबीआई ने कहा, नीतिगत दरों में कटौती का लाभ ग्राहकों को दिया

रिजर्व बैंक द्वारा भविष्य में नीतिगत दरों में कटौती के बारे में पूछे जाने पर भट्टाचार्य ने उम्मीद जताई कि मुद्रास्फीति नीचे आएगी।
Author नई दिल्ली | October 11, 2016 04:16 am
एसबीआई के मुख्यालय में बैंक की प्रमुख अरूंधति भट्टाचार्य। (REUTERS/Danish Siddiqui/File Photo)

देश के सबसे बड़े वाणिज्यिक बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने सोमवार (10 अक्टूबर) को कहा कि उसने रिजर्व बैंक द्वारा नीतिगत दरों में कटौती का लाभ नियमित आधार पर अपने ऋण लेने वाले ग्राहकों को दिया है। बैंक ने कहा कि वह निकट भविष्य में भी दरों में कटौती करेगा जिससे वाहन और आवास ऋण उपभोक्ताओं को लाभ होगा। एसबीआई की चेयरपर्सन अरुंधति भट्टाचार्य ने सीएनबीसी टीवी 18 के साथ साक्षात्कार में कहा कि केंद्रीय बैंक ने जनवरी, 2015 से ब्याज दरों में 1.75 प्रतिशत की कटौती की। इसमें से 0.95 प्रतिशत कटौती का लाभ एसबीआई ने ग्राहकों को दिया है। उन्होंने कहा कि निकट भविष्य में बैंक कटौती का और लाभ ग्राहकों को देगा। इसमें लंबा समय नहीं लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि एसबीआई एक बार में 0.25 प्रतिशत की बड़ी कटौती नहीं कर रहा है, लेकिन बैक माह दर माह आधार पर नियमित रूप से दरें घटा रहा है। अभी तक बैंक ने 0.95 प्रतिशत कटौती का लाभ ग्राहकों को दिया है।

रिजर्व बैंक द्वारा भविष्य में नीतिगत दरों में कटौती के बारे में पूछे जाने पर भट्टाचार्य ने उम्मीद जताई कि मुद्रास्फीति नीचे आएगी। उन्होंने कहा, ‘हमारे आंतरिक अनुसंधान से भी यह संकेत मिलता है कि मुद्रास्फीति नीचे आएगी। यदि मुद्रास्फीति का नीचे आने का सिलसिला जारी रहता है, तो निश्चित रूप से ब्याज दरों में आगे और कटौती की गुंजाइश बनेगी। हम इस बात को जानते हैं। रिजर्व बैंक की बार-बार कहता रहा है कि वह आंकड़ों से फैसला लेता है। यदि आंकड़े सहयोग करेंगे, तो ब्याज दरों में और कटौती होगी।’ भट्टाचार्य ने कहा कि निचली ब्याज दरों से बड़े कारपोरेट के साथ छोटे कारोबारियों को भी फायदा होगा, क्योंकि आपूर्ति श्रृंखला के जरिए वे एक-दूसरे से जुड़े हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग