ताज़ा खबर
 

लघु बचत योजनाओं पर ब्याज तय, पीपीएफ पर 8.1 तो केवीपी पर 7.8 फीसद

सुकन्या समृद्धि खाता योजना पर ब्याज 8.6 प्रतिशत मिलेगा। पांच साल की आवर्ती (रेकरिंग) जमा पर ब्याज दर 7.4 प्रतिशत होगी।
Author मुंबई | July 8, 2016 08:58 am
रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (File Photo)

रिजर्व बैंक ने सितंबर को समाप्त तिमाही में विभिन्न लघु बचत योजनाओं के लिए ब्याज दरों को गुरुवार (7 जुलाई) को अधिसूचित कर दिया। ब्याज दर को पिछली अप्रैल-जून तिमाही के स्तर पर बरकरार रखा गया है। सरकार के निर्णय के आधार पर लोक भविष्य निधि (पीपीएफ) योजना तथा किसान विकास पत्र जैसी लघु बचत योजनाओं के लिए ब्याज दरें तिमाही आधार पर अधिसूचित की जाती हैं।

बचत जमा पर ब्याज दर 4.0 प्रतिशत जबकि पांच साल की आवर्ती (रेकरिंग) जमा तथा वरिष्ठ नागरिकों की बचत योजना पर ब्याज दर क्रमश: 7.4 प्रतिशत तथा 8.6 प्रतिशत होगी। पीपीएफ पर ब्याज दर 8.1 प्रतिशत तथा किसान विकास पत्र (110 महीने की परिपक्वता अवधि) पर 7.8 प्रतिशत ब्याज मिलेगा। सुकन्या समृद्धि खाता योजना पर ब्याज 8.6 प्रतिशत मिलेगा।

इस बीच, रिजर्व बैंक ने सीजे फाइनेंस लि. का जमा लेने वाली गैर-बैंकिंग वित्त कंपनी (एनबीएफसी-डी) के रूप में पंजीकरण प्रमाणपत्र रद्द कर दिया है। केंद्रीय बैंक ने कहा, ‘कंपनी अब केवल जमा नहीं लेने वाली गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी (एनबीएफसी-एनडी) के रूप में ही काम कर सकेगी।’ ऐसी कंपनी लोगों से जमा स्वीकार नहीं कर सकती।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.