ताज़ा खबर
 

1 मई से इन पांच शहरों में रोज बदलेंगे पेट्रोल और डीजल के दाम, रिपोर्ट्स का दावा

तीन बड़ी तेल कंपनियों का देश के करीब 90 फीसदी रिटेल मार्केट पर कब्जा है।
इन कंपनियों के इन पांच शहरों में करीब 200 पेट्रोल पंप हैं।

भारत की बड़ी तेल कंपनियां अंतरराष्ट्रीय मार्केट के हिसाब से रोजाना पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल और डीजल के रेट बदलने की प्लानिंग कर रही हैं। सूत्रों से पता चला है कि यह सबसे पहले देश के पांच शहरों में लागू किया जाएगा। रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि 1 मई से साउथ के पुडुचेरी और वाईजेग (विशाखापट्टनम) में, वेस्ट के उदयपुर में, ईस्ट के जमशेदपुर में और नॉर्थ इंडिया के चंडीगढ में इस प्लानिंग पर अमल किया जा सकता है। मतलब 1 मई से इन पांचों शहरों में डीजल और पेट्रोल की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार के मुताबिक रोजाना बदलेंगी। देश की तीन बड़ी कंपनियों इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन, भारत पेट्रोलियम और हिंदुस्तान पेट्रोलियम का 90 फीसदी रिटेल मार्केट पर कब्जा है। इन कंपनियों के इन पांच शहरों में करीब 200 पेट्रोल पंप हैं।

सूत्रों ने बताया कि पहले इन पांच शहरों में इसे लागू करने से पता चल जाएगा कि इसमें क्या-क्या दिक्कतें आ रही हैं। क्योंकि साल के आखिर में इसके पूरे देश में लागू होने के बाद दिक्कतों का पता लगाना बहुत मुश्किल है। हालांकि अभी तक तेल कंपनियों की तरफ से कुछ नहीं कहा गया है। सूत्रों ने कहा कि प्राइवेट तेल कंपनियां रिलायंस इंडस्ट्रीज और एस्सार ऑयल भी इन कंपनियों की तरह कर सकती हैं।

अभी 15 दिनों में बदलती है कीमत: मौजूदा समय में हर 15 दिन में डीजल-पेट्रोल की कीमतों में बदलाव होता है, लेकिन नई व्यवस्था के तहत रोजाना तेल की कीमतें बदल सकती हैं। सरकारी तेल कंपनियों ने यह योजना बनाई है कि भारत में भी कई अन्य विकसित देशों की तरह डीजल पेट्रोल की कीमतों की रोजाना समीक्षा की जाए, जिसे पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर ऊपर बताए गए पांच शहरों में लागू किया जाएगा।

पेट्रोल और डीजल की रोजाना समीक्षा से यह फायदा होगा कि तेल की कीमतों में अचानक अधिक गिरावट या अधिक बढ़ोत्तरी नहीं होगी। इससे ग्राहकों को यह फायदा होगा कि उन्हें तेल की कीमतों को लेकर अचानक झटका नहीं लगेगा। दरअसल, रोजाना कीमत बदलने पर थोड़े-थोड़े बदलाव होते रहेंगे। इससे एक साथ महंगाई आने का खतरा भी कम हो सकता है।

10 साल पुरानी डीजल गाड़ियां बंद करने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची केंद्र सरकार, देखें वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग