ताज़ा खबर
 

घर बैठे आप तक पहुंच सकता है एक दिन में एक हजार कैश, शर्त यह है कि…

500 रुपए और 1000 रुपए के पुराने नोट बंद करने का ऐलान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आठ नवंबर को किया था।
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर

नोटबंदी के बाद से लोगों को कैश की बहुत दिक्कत हो रही है। कैश के लिए एटीएम के बाहर काफी लंबी लाइन देखने को मिल रही हैं। ऐसे में नोएडा में एक स्टार्टअप ने नोटबंदी के दौर में अपना बिजनेस बढ़ाने का एक यूनिक तरीका निकाला है। यह अपने कस्टमर को हर एक ऑर्डर के साथ कैश पहुंचा रहा है। tailmil.com नाम का स्टार्टअप ऑनलाइन प्रोडेक्ट्स खरीदने पर 1000 रुपए तक के वैध नोट अपने कस्टमर के घर मुफ्त डिलीवर कर रहा है। स्टार्टअप ने TWF Flours के साथ टाइअप किया है, यह कंपनी ऑनलाइन आटा, दाल, अनाज, चावल और किचन का अन्य सामान बेचती है।

हिंदुस्तान टाइम्स ने स्टार्टअप के मालिक अर्जुन रुंगटा के हवाले से लिखा है, ‘उपभोक्ता टीडब्ल्यूएफ के प्रोडेक्ट्स ऑनलाइन ऑर्डर कर सकते हैं और उन्हें इसके साथ ही एक ऑप्शन फ्री कैश डिलिवरी का भी मिलेगा। यह एक आसान तरीका है। नोटबंदी के बाद 15-20 दिनों में हमें जो कैश मिला है, वह अब हम हमारों उपभोक्ताओं को दे रहे हैं। उन्हें ऑनलाइन टीडब्ल्यूएफ के प्रोडेक्ट खरीदने पड़ेंगे और वहां से वे कैश ले सकते हैं। अभी एक ग्राहक को एक दिन में केवल 1000 रुपए कैश दिया जा रहा है।’ उन्होंने बताया कि कंपनी 100 रुपए और 500 रुपए के नए नोट अपने उपभोक्ताओं को दे रही है। इसके लिए उपभोक्ताओं को 1000 रुपए और प्रोडेक्ट की कीमत ऑनलाइन देनी होगी। कैश डिलीवरी का कोई चार्ज नहीं है।

इसके लिए नए कस्टमर को कम से कम 160 रुपए और पुराने कस्टमर को 140 रुपए का सामना खरीदना होगा। कंपनी ने बताया कि 1000 रुपए के कैश का ऑप्शन केवल चुनिंदा कस्टमर को ही मिलेगा। यह ऑप्शन रेगुलर और जिन्होंने वेबसाइट का लिंक छह या ज्यादा लोगों को रेफर किया है, उन्हें ही मिलेगा। नए कस्टमर को 500 रुपए की कीमत के नोट मिलेंगे।

बता दें, 500 रुपए और 1000 रुपए के पुराने नोट बंद करने का ऐलान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आठ नवंबर को किया था। इसके साथ ही एटीएम और बैंक से कैश निकालने की एक सीमा तय कर दी गई थी। इसके बाद कैश लेने वाले लोगों की लंबी लाइनें एटीएम के बाहर देखने को मिली।

वीडियो में देखें- सेलरी डे: दिल्‍ली और पंचकूला में बैंकों, एटीएम के बाहर लगी लंबी कतारें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग