ताज़ा खबर
 

ऑनलाइन पेमेंट करते वक्त रखें इन पांच बातों का ध्यान, सुरक्षित रहेंगी बैंक डिटेल्स

स्मार्टफोन में सिर्फ अच्छे मर्चेंट के ऑनलाइन शॉपिंग ऐप्स को ही इन्स्टॉल करने में ही भलाई है।
थर्ड पार्टी मर्चेंट द्वारा दिए जाने वाले डिस्काउंट कूपन का इस्तेमाल अक्सर डेटा चुराने के लिए किया जाता है।

आदिल शेट्टी, सीईओ, बैंक बाजार

फेस्टिवल सीजन चल रहा है, ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट्स पर लगभग हर जगह डिस्काउंट के अलावा तरह तरह के ऑफर्स दिए जा रहे हैं। आप अगर ऑनलाइन शॉपिंग करने के बाद पेमेंट भी ऑनलाइन कर रहे हैं तो सावधानी रखनी बहुत जरूरी है। आइये हम आपको बताते हैं कि ऑनलाइन पेमेंट करते वक्त किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

सुरक्षित वेबसाइटों से ही करें ऑनलाइन पेमेंट
ऑनलाइन शॉपिंग करते वक्त यह चैक करना जरूरी है कि कहीं मर्चेंट को दी जाने वाली आपकी डिटेल्स किसी और के पास न पहुंच जाएं। इसलिए यह सुनिश्चित करना बहुत जरूरी है कि आप जिस ई-कॉमर्स वेबसाइट से शॉपिंग कर रहे हैं वह सिक्योर सॉकेट्स लेयर (एसएसएल)-सर्टिफाइड है या नहीं। इस बात की जांच करने का सबसे आसान तरीका यही है कि वेबसाइट में ‘http’ की जगह ‘https’ प्रोटोकॉल होना चाहिए क्योंकि यह अधिक सुरक्षित लेयर है जो आपकी सभी फाइनैंसल जानकारी को उसी समय से और तब तक एनक्रिप्ट करके रखता है जब से आप उसमें इस तरह की जानकारी दर्ज करते हैं और जब तक मर्चेंट को वह मिल नहीं जाता है।

असुरक्षित शॉपिंग ऐप्स का इस्तेमाल करने से बचें
ऐसे कई शॉपिंग ऐप्स हैं जो आपकी इजाजत मांगते हैं और आपके पासवर्ड, नेट बैंकिंग पासवर्ड या स्टोर्ड क्रेडिट कार्ड संबंधी संवेदनशील जानकारी का एक्सेस ले लेते हैं। इसलिए सिर्फ अच्छे मर्चेंट के ऑनलाइन शॉपिंग ऐप्स को ही इन्स्टॉल करने में ही भलाई है।

वर्चुअल कीबोर्ड का इस्तेमाल करें
ऑनलाइन शॉपिंग करते समय, चाहे जिस किसी भी भुगतान माध्यम का इस्तेमाल किया जा रहा हो, पासवर्ड या कार्ड नंबर और सीवीवी नंबर आदि डालने के लिए वर्चुअल कीबोर्ड का ही इस्तेमाल करना चाहिए। कई हैकर, ऑनलाइन भुगतान करते समय डाले जाने वाले नंबरों की चोरी करने के लिए कीवर्ड लॉगिंग टूल्स का इस्तेमाल करते हैं। वर्चुअल कीबोर्ड का इस्तेमाल करने से पहले से अधिक एनक्रिप्टेड स्तर की सुरक्षा मिलती है जिससे यह हैकरों से पूरी तरह सुरक्षित हो जाता है और डिटेल्स चोरी कर पाना लगभग असंभव हो जाता है।

वर्चुअल कार्ड का इस्तेमाल करें
आप हमेशा ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं तो इस बार फैस्टिव सीजन में अपने क्रेडिट या डेबिट कार्ड का इस्तेमाल करने के बजाय वर्चुअल कार्ड का इस्तेमाल करें। आप अपने नेट बैंकिंग अकाउंट में लॉगिन करके अपने डेबिट और क्रेडिट दोनों तरह के कार्ड के लिए आसानी से वर्चुअल कार्ड बना सकते हैं। वर्चुअल कार्ड पर आम तौर पर कोई एक्स्ट्रा फीस नहीं लगती है। 

डिस्काउंट कूपन कोड से सावधान रहें
इस दौरान प्रमोशनल मेल, ऑफर, डिस्काउंट कोड, कूपन आदि आ रहे हैं। किसी भी डिस्काउंट कूपन या कोड का इस्तेमाल सावधानी से करना चाहिए। उसी कूपन का इस्तेमाल करना बेहतर होगा जो सीधे मर्चेंट की तरफ से आया होगा। कई बार खरीदार इस तरह के डिस्काउंट कूपन ईमेल को सही मर्चेंट का ईमेल समझकर उसमें दिए गए लिंक पर क्लिक कर देते हैं। जिससे आपका फाइनैशल डेटा चोरी होने का खतरा होता है। थर्ड पार्टी मर्चेंट द्वारा दिए जाने वाले ऐसे डिस्काउंट का इस्तेमाल अक्सर डेटा चुराने के लिए किया जाता है। इसलिए, आकर्षक फेस्टिव शॉपिंग डिस्काउंट देने वाले ऐसे सभी थर्ड पार्टी डिस्काउंट को अनदेखा कर देना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग