June 22, 2017

ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी का ऐलान- 500 और 2000 रुपए के नए नोट होंगे जारी, ₹1000 का नोट बंद

नौ और 10 नवंबर के बीच एटीएम से पैसे निकालने की बंदिश होगी।

नोटबंदी के बाद जारी किए गए 500, 2000 रुपए के नए नोट। (Source: ANI)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़ा ऐलान किया है। राष्‍ट्र के नाम संबोधन में उन्‍होंने बताया कि दो हजार और पांच सौ रुपये के नए नोट जारी किए जाएंगे। सरकार की तरफ से नए नोटों की तस्‍वीरें भी जारी की गई हैं। इससे पहले, काले धन पर कड़ी कार्रवाई का ऐलान करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आज (मंगलवार, 8 नवंबर) आधी रात से 500 और 1000 रुपये के नोट बंद हो गए हैं। वे अब कागज के टुकड़ों से अध्‍ािक कुछ नहीं होंगे। उन्‍होंने कहा कि जिन लोगों के पास 500 और 1000 रुपये के नोट हैं वे लोग 10 नवंबर से 30 दिसंबर तक बैंक या पोस्‍ट ऑफिस में जमा कराए जा सकते हैं।  50 दिन का समय है इसके लिए अफरातफरी करने की जरुरत नहीं है। बैंक में जमा किए गए पैसों को निकाला जा सकता है। शुरू में एटीएम से 2000 रुपये ही निकाले जा सकेंगे। नौ और 10 नवंबर के बीच एटीएम से पैसे निकालने की बंदिश होगी। 11 नवंबर तक अस्‍पतालों में पुराने नोट दिए जा सकेंगे। 9 और 10 नवंबर को एटीएम नोट काम नही करेंगे। 72 घंटे तक पुराने नोट से रेलवे, सरकारी बसों और एयरपोर्ट पर टिकट खरीद सकेेंगे। वहीं बैंक ट्रांजेक्‍शन जारी रहेगा। ऑनलाइन पेमेंट भी जारी रहेगा।

देखें वीडियो, पीएम मोदी का बड़ा ऐलान- बंद होंगे 500 और 1000 रुपए के नोट, आएंगे 500 और 2,000 के नए नोट: 

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस देश ने बरसों से महसूस किया है कि भ्रष्‍टाचार, आतंकवाद और काला धन के खिलाफ कड़े कदम की जरुरत है। सीमा पार के शत्रु जाली नोटों के जरिए भारत में अपना धंधा बढ़ाना चाहते हैं। भ्रष्‍टाचार, आतंकवाद, काला धन और जाली नोट नासूर की तरह है। हमारी सरकार ने इनका सामना करने के लिए काम किया। सरकार बनने के बाद सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज की अध्‍यक्षता में एसआईटी का गठन किया। बेनामी संपत्तियों को रोकने के लिए मजबूत कानून बनाया गया। इन कानूनों से सवा लाख करोड़ रुपये का कालाधन बाहर लाया गया है। भ्रष्‍टाचार से कमाए गए पैसों से महंगाई बढ़ती है। इससे गरीबों पर असर होता है। चुनाव में भी कालेधन का इस्‍तेमाल होता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 8, 2016 8:48 pm

  1. A
    Anil Tiwari
    Nov 9, 2016 at 2:51 am
    very good dicision of Indian government
    Reply
    1. m
      m.s.azmi
      Nov 8, 2016 at 8:47 pm
      कुछ लोग कहते हैं , मेरा देश बदल रहा है, क्या कागज के नोट ओर सिक्के बदलने से क्या इंसान बदलता है ?सच में , इंसान क्यो नही बदल रहा है , आज भी वही जातीवाद है, धार्मिक भेदभाव है , ऊँच नीच का भाव हैं, दलितो - आदिवासियों पर अत्याचार है, भुखमरी ओर बैरोजगारी का अम्बार है , फिर भी कहते है, मेरा देश बदल रहा है ओैर आज जवान बार्डर पर ओर किसान कर्ज के बोझ में मर रहा हैं !सच में मेरा देश बदल गया है..... ! केवल पुराने नोट बदलकर समझते हैं , कि देश बदल दिया है !
      Reply
      1. R
        raj
        Nov 9, 2016 at 9:56 am
        अपनी सोच बदलो आजमी जी
        Reply
        1. R
          RANJEET SINGH
          Nov 8, 2016 at 4:46 pm
          good
          Reply
          1. M
            masud
            Nov 9, 2016 at 7:12 am
            Right..
            Reply
          2. S
            shivshankar
            Nov 8, 2016 at 10:51 pm
            बोर्डेर पर मारने वाला भी ग़रीब किसान का ही बेटा होता है बोर्डेर पर मारनेवाला कभी भी किसी बिजनेसमैन का बेटा नहीं होता
            Reply
            1. Load More Comments
            सबरंग