ताज़ा खबर
 

मैगी पर बैन के चलते घाटे में चल रही नेस्ले इंडिया

हाल ही मैगी नूडल्स लगे बैन से इन दिन व दिन नेस्ले इंडिया को घाटे का सौदा करना पड़ रहा है। गुरुवार को समाप्त दूसरी तिमाही में एकल आधार पर नेस्ले इंडिया को 64.40 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ है।
मैगी पर बेन के चलते घाटे में नेस्ले इंडिया

हाल ही मैगी नूडल्स लगे बैन से इन दिन व दिन नेस्ले इंडिया को घाटे का सौदा करना पड़ रहा है। गुरुवार को समाप्त दूसरी तिमाही में एकल आधार पर नेस्ले इंडिया को 64.40 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ है।

नेस्ले इंडिया ने एक बयान में कहा कि कंपनी को वित्त वर्ष 2014-15 की अप्रैल से जून की तिमाही के दौरान 287.86 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ था लेकिन मैगी पर बैन के बाद कंपनी इन दिनों घाटे में चल रही है।

समीक्षाधीन तिमाही के दौरान नेस्ले इंडिया की परिचालन से होने वाली कुल आय 19.52 प्रतिशत घटकर 1,957.01 करोड़ रुपये रह गया, जो पूर्व वर्ष की समान अवधि के दौरान 2,431.97 करोड़ रुपए था।

समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी की शुद्ध बिक्री 20.1 प्रतिशत घट गई, जिसका मुख्य कारण मैगी नूडल्स संबंधित विवाद है। शुद्ध घरेलू बिक्री में 20.6 प्रतिशत की कमी आई है। कंपनी जनवरी से दिसंबर का वित्त वर्ष मानती है।

नेस्ले के प्रबंध निदेशक ने कहा, कंपनी के लिए यह तिमाही काफी चुनौतीपूर्ण रहा है। नेस्ले इंडिया अपने कन्यूमर्स को फिर से आश्वस्त करना चाहती है कि उसके उत्पाद सुरक्षित हैं। उपभोक्ताओं का भरोसा नेस्ले के लिए महत्वपूर्ण रहा है और रहेगा। वहीं इसी कंपनी का प्रोडक्ट मैगी उतना सुरक्षित नहीं निकला जितना कि लोग उस पर भरोसा करते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग