April 27, 2017

ताज़ा खबर

 

मैकडोनाल्ड की ऐप से डेटा ‘लीक’, 22 लाख भारतीय ग्राहकों की निजी जानकारी चोरी होने का शक

रिपोर्ट्स के मुताबिक, लीक हुए डेटा में ग्राहकों के नाम, फोन नंबर, ई-मेल एड्रेस, घर का पता समेत सोशल प्रोफाइल के लिंक भी शामिल हैं

चीजबर्गर के लिए 4 साल की बहन के साथ कार चलाकर मैकडी पहुंचा 8 साल का बच्चा।

बगर्र खाना इतना महंगा पड़ सकता है किसी ने नहीं सोचा था। जानकारी मिली है कि अमेरिका की फास्ट फूड चेन चलाने वाली कंपनी मैकडोनाल्ड की भारतीय ऐप से डेटा लीक हुआ है। साइबर सिक्योरिटी फर्म Fallible ने कहा कि मैकडोनाल्ड की भारतीय ऐप McDelivery से 22 लाख से ज्यादा ग्राहकों का पर्सनल डेटा लीक हुआ है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, लीक हुए डेटा में ग्राहकों के नाम, फोन नंबर, ई-मेल एड्रेस, घर का पता समेत सोशल प्रोफाइल के लिंक भी शामिल हैं। साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट्स का कहना है कि हैकर्स इन डेटा का इस्तेमाल ग्राहकों के क्रेडिट/डेबिट कार्ड और ई-वॉलेट जैसी आर्थिक जानकारी जुटाने में कर सकते हैं। हालांकि कंपनी ने ऐसी किसी भी घटना से इंकार कर दिया है। साथ ही ऐप का नया अपडेट भी जारी कर दिया है।

जिस ऐप से कथित तौर पर डेटा लीक हुआ है वह दक्षिण और पश्चिम भारत में मैकडोनाल्ड का संचालन करने वाली Westlife Development कंपनी की देखरेख में थी। मैकडोनाल्ड इंडिया (पश्चिम व दक्षिण) के प्रवक्ता ने कहा कि हम अपने ग्राहकों को बताना चाहते है कि कंपनी की वेबसाइट और ऐप यूजर्स के डेबिट/क्रेडिट कार्ड डीटेल, वॉलेट पासवर्ड और बैंक अकाउंट जैसे कोई भी गोपनीय फाइनेंशियल जानकारी अपने पास नहीं रखती है। वेबसाइट और ऐप का इस्तेमाल करना पूरी तरह सुरक्षित है। हम लगातार सुरक्षा लिहाज से ऐप को अपडेट करते रहे हैं।

प्रवक्ता ने कहा कि हम ग्राहकों से अपील करते हैं कि एहतियात के तौर पर अपने फोन में McDelivery ऐप को एक बार फिर अपडेट कर लें। मैकडोनाल्ड इंडिया में हम यूजर्स की निजता और सुरक्षा का पूरा ध्यान रखते हैं। Fallible ने ये भी दावा किया कि उसने 7 फरवरी को मैकडोनाल्ड से इस बारे में बात करने की कोशिश की थी। 13 फरवरी को कंपनी ने माना भी था लेकिन एक महीने बाद भी कोई एक्शन नहीं हुआ।

एक ऐसा एंडॉयड ऐप जो बताएगा, आखिरी बार किसने किया था आपके फोन का इस्तेमाल

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 20, 2017 11:56 am

  1. No Comments.

सबरंग