ताज़ा खबर
 

खुफिया एजेंसियों को शक, भारतीय जवान का सिर कलम करने के पीछे हो सकता है जैश ए मोहम्मद का हाथ

इंटेलिजेंस एजेंसियों को शक है कि सिपाही मनदीप सिंह की जान पाकिस्तान से संचालित जैश ए मोहम्मद ने पाकिस्तान आर्मी की मदद से ली है।
पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर से भारत में दाखिल हुए कुछ आतंकियों ने सिपाही मनदीप सिंह को मार दिया था।

इंटेलिजेंस एजेंसियों को शक है कि सिपाही मनदीप सिंह की जान पाकिस्तान से संचालित जैश ए मोहम्मद ने पाकिस्तान आर्मी की मदद से ली है। 17वीं सिख बटालियन के सिपाही मनदीप सिंह माछिल सेक्टर में तैनात थे। शुक्रवार शाम को उन्हें पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर से भारत में दाखिल हुए कुछ आतंकियों ने मार दिया था। इतना ही नहीं उनके शरीर को भी आतंकियों ने विकृत किया था। कुछ खबरों के मुताबिक, मनदीप का सिर भी काटा गया था। इसके बाद भारतीय फौज की गोलियों से डरकर आतंकी भागकर फिर से पीओके में घुस गए थे। पाकिस्तान की सेना ने फायरिंग करके भारतीय सेना का ध्यान भटकाया था। इसी बीच में आतंकी भारत में दाखिल हुए। हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक, सरकार के सीनियर अधिकारियों से पता लगा है कि जैश ए मोहम्मद और लश्कर ए तैय्यबा के 250-300 आतंकी लाइन ऑफ कंट्रोल के पार बने लॉन्चिंग पैड्स पर भारत में घुसने का इंतजार कर रहे हैं।

वीडियो: हेड कांस्टेबल जितेंद्र कुमार सिंह को दी गई श्रद्धांजलि; पाकिस्तानी गोलीबारी में हुए थे शहीद

सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से अबतक आर्मी का एक जवान, बीएसएफ के तीन जवान और तीन ही आम लोग मारे जा चुके हैं। पाकिस्तान द्वारा किए जा रहे सीजफायर के उल्लंघन में अबतक सुरक्षा जवान के 19 जवान और 41 आम लोग जख्मी हो गए हैं। वहीं जम्मू में बॉर्डर से सटे लगभग 150 गांवों के लोगों को अपने घर छोड़कर इधर-उधर रहना पड़ रहा है।

शहीद सिपाही मनदीप सिंह की याद में कुरुक्षेत्र के अंथेडी गांव के लोग दिवाली नहीं मनाने का फैसला लिया है। मनदीप के बड़े भाई संदीप ने कहा, ‘हम लोगों ने हाल ही में नया घर बनाया था। सोचा था कि दिवाली पर मंदीप के आने पर एक शानदार जश्न करके घर का उद्घाटन करेंगे। लेकिन अब हमारा पूरा परिवार दुखी है। अब मैं आर्मी ज्वाइन करके अपने भाई की मौत का बदला लेना चाहता हूं। मैं पीएम मोदी से अपील करता हूं कि उन लोगों के खिलाफ सख्त एक्शन लें जिन्होंने हमारे सिपाहियों की जान ली है।’ खबर के मुताबिक, मनदीप की पत्नी प्ररेणा जो कि हरियाणा पुलिस में हेड कॉन्सटेबल हैं वह अपने पति की मौत की खबर आने के बाद से गमगीन हैं। मनदीप की दो साल पहले ही शादी हुई थी। मनदीप कुरुक्षेत्र से शहादत पाने वाले दूसरे सिपाही हैं।

Read Also: पाकिस्तानी आतंकियों के हाथों भारतीय जवान का सिर कलम करने पर गुस्सा, शहीद मनदीप के गांव वाले नहीं मनाएंगे दीवाली

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग