ताज़ा खबर
 

संबंधों को मजबूत बनाने के लिए भारतीय शिष्टमंडल करेगा कुवैत की यात्रा

गुजरात से जाने वाले इस 16 सदस्यीय व्यावसायिक शिष्टमंडल में कई प्रमुख भारतीय कंपनियों के प्रतिनिधि शामिल होंगे।
Author दुबई | October 9, 2016 01:58 am
वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट का लोगो।

गुजरात सरकार का एक उच्चस्तरीय शिष्टमंडल अगले सप्ताह कुवैत की यात्रा पर जाएगा। शिष्टमंडल का यह दौरा ‘वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट 2017’ के संवर्धन के लिए होगा। गुजरात सरकार के प्रधान सचिव और गुजरात नर्मदा वैली फर्टिलाइजर्स एण्ड केमिकल्स लिमिटेड (जीएनएफसी) के प्रबंध निदेशक राजीव कुमार गुप्ता ने कहा, ‘हमारे प्रतिनिधिमंडल का उद्देश्य खाड़ी देशों और भारत के बीच संबंधों को मजबूत बनाना है। तेल और गैस, ढांचागत परियोजनाओं, शिक्षा और पर्यटन के क्षेत्र में कुछ परियोजनाएं तैयार हैं। इन क्षेत्रों में कुवैत की विशेषज्ञता और अनुभव उल्लेखनीय भूमिका निभा सकता है।’ राजीव कुमार ही शिष्टमंडल का नेतृत्व करेंगे।

गुजरात से जाने वाले इस 16 सदस्यीय व्यावसायिक शिष्टमंडल में कई प्रमुख भारतीय कंपनियों के प्रतिनिधि शामिल होंगे। इसके अलावा गुजरात सरकार और विभिन्न उद्योग मंडलों के प्रतिनिधि भी इसमें होंगे। शिष्टमंडल इस दौरान कुवैत में व्यापार और निवेश गतिविधियों की खोज करेगा। कुवैत के कारोबारियों और उद्यमियों के साथ गठबंधन की संभावनाएं भी तलाशेगा। विभिन्न कंपनियों के कार्यकारियों के साथ मुलाकात के अलावा वित्तीय संस्थानों के प्रमुखों और उद्योग मंडलों के साथ बातचीत की जाएगी। इसके अलावा सरकारी अधिकारियों से भी उनकी चर्चा होगी। शिष्टमंडल 9 से 10 अक्तूबर तक कुवैत की यात्रा पर रहेगा। इसका मकसद भारत और कुवैत के बीच आर्थिक एवं सामाजिक रिश्तों को मजबूत बनाना और वाइब्रेंट गुजरात वैश्विक सम्मेलन का संवर्धन करना है। इससे पहले शिष्टमंडल ने सऊदी अरब और कतर की भी यात्रा की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग