ताज़ा खबर
 

कम उम्र में जीवन बीमा पॉलिसी लेने से मिलते हैं ये फायदे

जीवन बीमा पॉलिसी कम उम्र या युवावस्था में लेने से आपको इसके और भी कई लाभ मिलते हैं।
प्रतीकात्मक फोटो।

जीवन बीमा किसी अनहोनी के समय आपके परिवार के लिए कितना लाभदायक होता है इसके महत्व को आप सभी जानते हैं। वहीं अगर आप जीवन बीमा कम उम्र या अपनी युवावस्था में लेते हैं तो इसके और भी कई लाभ मिलते हैं जानते हैं उन्हीं के बारे में।

हेल्थ इज वेल्थ- एक्सपर्ट्स की माने तो जीवन बीमा पॉलिसी लेते समय अमूमन सभी कंपनियां आपका मेडिकल या हेल्थ चेकअप कराती हैं। वहीं इस बात में कोई दो राय नहीं कि जवान होने पर आपका स्वास्थ्य बेहतर बना रहता है। ऐसी स्थिति में कंपनियों द्वारा पॉलिसी के सस्ते प्रीमियम्स ऑफर करने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। वहीं प्रीमियम्स की दर में भी समय के साथ कोई बदवाल नहीं होता और एक तरह से मेच्योरिटी तक आप किफायती प्रीमियम्स भरते हैं।

रॉयल्टी बेनिफिट्स- एक्सपर्ट्स का मानना है कि बीमा कंपनियां ग्राहकों को रॉयल्टी बेनिफिट्स भी देती हैं और यह लंबे समय तक कंपनी के साथ जुड़े रहने की वजह से मिलती हैं। उदाहरण के लिए अगर 20 साल की उम्र में कोई पॉलिसी लेता है तो 50 साल का होने पर वह लंबे समय के लिए कंपनी से जुड़ा रहेगा। ऐसे में कंपनियां अमूमन मार्केट की प्रतिस्पर्धा के चलते ग्राहक को आकर्षक ऑफर्स देते हैं जिसमें पॉलिसी कवर और प्रीमियम ऑफर्स दिए जाते हैं।

बेहतर बचत- बीमा पॉलिसी लेते ही आप एक तय रकम की बचत प्रीमियम के रूप में करने लगते हैं। ऐसे में लंबे समय तक सेविंग्स करने के बाद आपको यह जानकारी होती है कि आपने बचत की है। वहीं बचत वक्त आने पर आपकी कितनी मदद कर सकती है इसकी अहमियत को आप बेहतर समझते ही होंगे। आप एक मामूली राशि से कुछ राशि बचा सकते हैं, तो आप निश्चित रूप से जीवन में किसी बड़ी होनी-अनहोनी के लिए तैयार रहते हैं।

टैक्स में रियायत- आपके खर्चे कुछ हद तक आपको टैक्स में बचत करने की सुविधा दे देते हैं। ऐसे ही आपकी सैलरी से भरे जा रहे प्रीमियम पर आपको टैक्स बेनिफिट्स भी मिलते हैं। फॉर्म 80 सी के तहत होने वाली कटौती के जरिए आप टैक्स में रियायत पा सकते हैं। वहीं जिनकी सैलरी कम होती है उनके लिए बचत करना और भी महत्वपूर्ण हो जाता है। टैक्स में कटौती से आपकी सेविंग्स बढ़ जाती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग