ताज़ा खबर
 

Idea सेलुलर ने Vodafone इंडिया के साथ विलय पर लगाई मुहर

आइडिया सेलुलर बोर्ड ने वोडाफोन इंडिया लिमिटेड और इसके पूर्ण स्वामित्व वाली वोडाफोन मोबाइल सर्विसेज के कंपनी के साथ विलय को मंजूरी दी।
कुमार मंगलम बिरला(L) और वोडाफोन ग्रुप के सीईओ विटोरी कोलाओ। (Source: Reuters)

आइडिया सेलुलर बोर्ड ने वोडाफोन इंडिया लिमिटेड और इसके पूर्ण स्वामित्व वाली वोडाफोन मोबाइल सर्विसेज के कंपनी के साथ विलय को मंजूरी दी। देश की तीसरी सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी आइडिया सेलुलर के बोर्ड ने वोडाफोन इंडिया के साथ विलय को मंजूरी दे दी है। वहीं माना जा रहा है कि यह टेलिकॉम बाजार की सबसे बड़ी डील होगी और विलय के बाद बनने वाली नई कंपनी भारतीय टेलिकॉम सेक्टर की सबसे बड़ी कंपनी हो जाएगी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, विलय के बाद नई कंपनी के पास 38 करोड़ ग्राहक होंगे। आइडिया और वोडाफोन की विलय प्रक्रिया अगले साल तक पूरी हो जाएगी। इसमें वोडाफोन की हिस्सेदारी 45 प्रतिशत जबकि आइडिया की हिस्सेदारी 26 प्रतिशत होगी। आगे जाकर आदित्य बिड़ला ग्रुप और वोडाफोन का हिस्सा बराबर हो जाएगा। आइडिया का वैल्युएशन 72,2000 करोड़ रुपया का होगा। फाइलिंग के मुताबिक, एबी ग्रुप के पास 130 रुपये प्रति शेयर की दर से नई कंपनी के 9.5 प्रतिशत खरीदने का अधिकार होगा।

वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, वोडाफोन विलय के बाद कंपनी में सीईओ और सीएफओ, दोनों ही पद मांग रहा है। वहीं वोडाफोन को कुमार मंगलम बिड़ला को नई कंपनी का चेयरमैन घोषित करने से कोई ऐतराज नहीं होगा। सीईओ वोडाफोन पीएलसी के किसी ग्लोबल एग्जिक्युटिव को बनाया जा सकता है। इस मर्ज के बाद वोडाफोन और आइडिया के सभी शेयरों का विलय होगा, लेकिन इंडस टावर्स में वोडाफोन के 42 प्रतिशत शेयर इस विलय से अलग होंगे। आइडिया के नए शेयरों को वोडाफोन में जारी करने के साथ विलय लागू हो जाएगा और वोडाफोन इंडिया अपनी पैरंट कंपनी से अलग हो जाएगा।

देखें वीडियो

बता दें कि आइडिया और वोडाफोन के इस विलय को लेकर पहले से ही कयास लगाए जा रहे थे। टेलिकॉम मार्केट में रिलायंस जियो ने बड़ी तेजी से फ्री इंटनेट और वॉइस कॉलिंग सर्विसिस देकर अपने पांव जमाए थे। रिलायंस जियो अभी भी देशभर में मौजूद सभी टेलिकॉम कंपनियों को कड़ी चुनौती दे रहा है। कंपनी ने पहले वेलकम ऑफर और फिर हैपी न्यू इयर ऑफर के तहत फ्री वॉइस और डेटा सर्विसेज देकर बड़े पैमाने पर ग्राहकों को जोड़ने में कामयाब रही है। बहरहाल, वोडाफोन और आइडिया के विलय से बनी नई कंपनी भारत की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी हो जाएगी।

देखें वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.