March 29, 2017

ताज़ा खबर

 

भूराजनीतिक तनाव कोई मुद्दा नहीं, भारत तेज वृद्धि दर्ज करेगा: विश्व आर्थिक मंच

जेनिफर ब्लैंक ने कहा कि भारत को एक बेहतर प्रबंधित मौद्रिक प्रणाली की जरूरत है।

Author नई दिल्ली | October 6, 2016 12:55 pm
डब्ल्यूईएफ की मुख्य अर्थशास्त्री तथा कार्यकारी समिति की सदस्य जेनिफर ब्लैंक (फाइल फोटो)

दक्षिण एशियाई क्षेत्र में भूराजनीतिक तनाव का भारत जैसी अर्थव्यवस्थाओं पर कोई प्रतिकूल असर नहीं होगा और यह तेज वृद्धि दर्ज करती रहेगी। विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) ने बुधवार (5 अक्टूबर) को यह बात कही। भारत और पाकिस्तान के भूराजनीतिक तनाव के अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में पूछे जाने पर डब्ल्यूईएफ की मुख्य अर्थशास्त्री तथा कार्यकारी समिति की सदस्य जेनिफर ब्लैंक ने कहा कि यह क्षेत्र काफी तेज वृद्धि दर्ज करता रहेगा। निश्चित रूप से मैंने इसका नीचे की ओर का पुन:आकलन नहीं देखा है।

ब्लैंक दो दिन के भारत आर्थिक सम्मेलन पर संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रही थीं। यह सम्मेलन गुरुवार (6 अक्टूबर) से शुरू हो रहा है। ब्लैंक ने रिजर्व बैंक द्वारा मंगलवार (4 अक्टूबर) को रेपो दर में कटौती पर कहा कि रिजर्व बैंक काफी अच्छा काम करता दिख रहा है। हालांकि उन्होंने इसके साथ ही जोड़ा कि विकासशील अर्थव्यवस्थाएं मौद्रिक नीति पर काफी अधिक निर्भर करती हैं। उन्होंने कहा कि भारत को एक बेहतर प्रबंधित मौद्रिक प्रणाली की जरूरत है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 6, 2016 12:55 pm

  1. No Comments.

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग