ताज़ा खबर
 

शेयर बाजारों में 12 प्रतिशत तक निवेश कर सकता है ईपीएफओ: बंडारू दत्तात्रेय

दत्तात्रेय ने कहा कि वित्त मंत्रालय 5 से 15 प्रतिशत तक के निवेश की अनुमति दी है। बाजार परिस्थितियों के हिसाब से यह 10 से 12 प्रतिशत के बीच रह सकता है।
Author हैदराबाद | July 18, 2016 04:40 am
श्रम मंत्री बंडारू दत्तात्रेय (फाइल फोटो)

शेयर बाजारों में जोरदार तेजी के बीच श्रम मंत्री बंडारू दत्तात्रेय ने कहा है कि समय के साथ कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) अपने निवेश योग्य कोष का 12 प्रतिशत शेयरों में निवेश कर सकता है। मंत्री के अनुसार 30 जून तक ईपीएफओ ने दो इंडेक्स आधारित एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ईटीएफ) (एक बीएसई सेंसेक्स तथा दूसरा एनएसई निफ्टी) में 7,468 करोड़ रुपए का निवेश किया। अब इस निवेश का मूल्य 7.45 प्रतिशत बढ़कर 8,024 करोड़ रुपए हो चुका है। दत्तात्रेय ने कहा, ‘केंद्रीय न्यासी बोर्ड (सीबीटी) की बैठक 22 जुलाई से पहले होगी। हम इसमें ईटीएफ में निवेश की मात्रा पर फैसला कर सकते हैं। हमारी बंबई शेयर बाजार और नेशनल स्टाक एक्सचेंज से भी बातचीत चल रही है। पिछले साल की तुलना में निवेश निश्चित रूप से बढ़ेगा।’

दत्तात्रेय ने कहा कि वित्त मंत्रालय 5 से 15 प्रतिशत तक के निवेश की अनुमति दी है। यह दीर्घावधि का निवेश है। बाजार परिस्थितियों के हिसाब से यह 10 से 12 प्रतिशत के बीच रह सकता है। हमें उम्मीद है कि दीर्घावधि में बाजारों में स्थिरता आएगी। बाजारों को भी धन की जरूरत है। वित्त मंत्रालय ने ईपीएफओ को हर साल अपने निवेश योग्य कोष का 5 से 15 प्रतिशत तक निवेश करने की अनुमति दी है। निवेश योग्य आय संगठन की निवेश से प्राप्त शुद्ध आय और नया योगदान होता है। एक अधिकारी ने बताया कि इस साल निवेश योग्य आय 1.35 लाख करोड़ रुपए रहेगी। मंत्री ने इससे पहले संकेत दिया था कि इस साल निवेश 5 प्रतिशत से अधिक रहेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग