December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

सरकार ने तीन दिन पहले दी थी शादी के लिए 2.5 लाख रुपए निकालने की छूट, बैंकों ने कहा- नहीं मिले निर्देश

केंद्र सरकार ने शादी वाले परिवार को 2.5 लाख रुपए निकालने की छूट गुरुवार को दी थी।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

केंद्र सरकार ने शादियों के जारी मौसम को देखते हुए दूल्हा, दुल्हन या उनके माता-पिता को बैंक खाते से ढाई लाख रुपए तक नकदी निकासी की अनुमति गुरुवार को दी थी। लेकिन बैंकों का कहना है कि उन्हें भारतीय रिजर्व बैंक से अभी तक कोई निर्देश नहीं मिले हैं। साथ ही बैंकों को कहना है कि हो सकता है कि हमें सोमवार या मंगलवार तक आरबीआई की ऑपरेशनल गाइडलाइंस मिल जाएं, उसके बाद हम लोग इसके तहत लोगों को कैश दे पाएंगे। पंजाब नेशनल बैंक की मैनेजिंग डायरेक्टर ऊषा अनंत सुब्रमण्यम ने कहा, ‘हमें आरबीआई की तरफ से कोई ऑपरेशनल गाइडलाइंस नहीं मिली हैं, ऐसे में हम लोग शादी के लिए 2.5 लाख रुपए देने में असमर्थ हैं। हम लोगों आरबीआई के निर्देशों का इंतजार कर रहे हैं।’

साथ ही उन्होंने बताया, ‘हमें उम्मीद है कि अगले सप्ताह के सोमवार या मंगलवार तक बैंक शादी के लिए कैश देना शुरू कर देंगे। यह रकम केवल दूल्हा, दुल्हन या उनके माता-पिता ही निकाल सकते हैं। इसके तहत इनमें से केवल एक ही व्यक्ति वह कैश निकाल सकता है। यह छूट दुल्हन और दूल्हे दोनों के परिवारों को दी गई है।’ इसी तरह अन्य बैंक भी आरबीआई की गाइडलाइनं नहीं होने की वजह से शादी वाले परिवारों को यह कैश नहीं दे रहे हैं। कॉरपोरेशन बैंक के एक सीनियर अधिकारी के मुताबिक, ‘शादी के लिए कैश केवल आरबीआई के निर्देशों के बाद ही निकाल पाएंगे।’

बता दें, गुरुवार को आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा था कि सरकार ने शादियों के जारी मौसम को देखते हुए दूल्हा, दुल्हन या उनके माता-पिता को बैंक खाते से ढाई लाख रुपए तक नकदी निकासी की अनुमति दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आठ नवंबर की मध्यरात्रि से 500 और 1000 रुपए के पुराने नोटों को चलन से बाहर किए जाने की घोषणा की थी। इसे उन्होंने कालेधन, आतंकवाद को वित्तपोषण और नकली नोटों के खिलाफ जंग बताया था। तब से अब तक प्रधानमंत्री और वित्तमंत्री को कई प्रतिनिधियों से शादी इत्यादि के लिए नकदी निकासी के नियमों को आसान बनाने की मनुहार की गई है।

दास ने कहा कि इसलिए शादियों के लिए नकदी निकासी सीमा को आसान बनाया गया है, जिस बैंक खाते से उन्हें नकदी का आहरण करना है उसकी केवाईसी (अपने ग्राहक को पहचानो) नियमों की प्रक्रिया पूरी होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि ढाई लाख रुपए केवल एक खाते से निकाले जा सकते हैं।

वीडियो में देखें -₹ 2000 और 500 के नए नोट में चलता है PM मोदी का भाषण !

वीडियो में देखें- बैंक पहुंची प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां; 4500 रुपए के नोट बदलवाए

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 19, 2016 6:22 pm

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग