ताज़ा खबर
 

बाबा रामदेव को कोर्ट का एक और झटका, टीवी पर नहीं द‍िखा सकेंगे पतंजल‍ि साबुन का ऐड

यह दूसरी बार है जब हाईकोर्ट ने पतंजलि को साबुन का विज्ञापन दिखाने से रोका है। इससे पहले हिन्दुस्तान यूनीलीवर लिमिटेड भी पतंजलि के इस विज्ञापन पर रोक लगवा चुका है।
योग गुरु रामदेव। (फाइल फोटो)

योग गुरू बाबा रामदेव को दिल्ली हाई कोर्ट ने भी करारा झटका दिया है। कोर्ट ने रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद को टीवी पर साबुन का विज्ञापन नहीं दिखाने का आदेश दिया है। कोर्ट का यह आदेश डिटॉल बनाने वाली कंपनी रेकिट बेनकीजर द्वारा दायर याचिका की सुनवाई के बाद आया है। याचिका में कहा गया है कि रामदेव की कंपनी पतंजलि आयुर्वेद का विज्ञापन डिटॉल ब्रांड की छवि खराब कर रहा है। यह दूसरी बार है जब हाईकोर्ट ने पतंजलि को साबुन का विज्ञापन दिखाने से रोका है। रेकिट बेनकीजर से पहले हिन्दुस्तान यूनीलीवर लिमिटेड भी पतंजलि के इस विज्ञापन पर रोक लगवा चुका है। तब बॉम्बे हाईकोर्ट ने इस पर रोक लगाई थी।

रेकिट बेनकीजर ने याचिका में कहा है कि पतंजलि के विज्ञापन में जो साबुन दिखाया गया है वो शेप, साइज और कलर में डिटॉल साबुन जैसा है। इसके अलावा पतंजलि के एड में डिटॉल को ढिटॉल बताया गया है। रेकिट बेनकीजर  के वकील के मुताबिक हाईकोर्ट ने पतंजलि के साबुन पर अंतरिम रोक लगा दी है। बतौर वकील पतंजलि ने शुरू में इस विज्ञापन को यूट्यूब पर अपलोड किया गया था, बाद में इसका कॉमर्शियल एड टीवी पर आने लगा। उन्होंने बताया कि जब इस बावत हमने पतंजलि को ई-मेल भेजा तो कोई जवाब नहीं आया।

इस विवाद की शुरुआत पतंजलि के उन विज्ञापनों से हुई थी जिसमें हिन्दुस्तान यूनीलीवर लिमिटेड के साबुन ब्रैंड्स लक्स, पियर्स, लाइफबॉय और डव का नाम न प्रत्यक्ष रूप से ना लेकर इनडजायरेक्ट तरीके से उपभोक्ताओं को कहा जा रहा था कि ‘केमिकल बेस्ड साबुनों’ का इस्तेमाल ना करें। और  उनकी जगह प्राकृतिक साबुन अपनाएं। पतंजलि आयुर्वेद का यह विज्ञापन 2 सितंबर से टीवी पर प्रसारित हो रहा था। विज्ञापन में डिटॉल को ढिटॉल बताने के अलावा एचयूएल के पियर्स को टियर्स, लाइफबॉय को लाइफजॉय बताया जा रहा था।  लक्स पर निशाना साधा गया था। HUL के ब्रैंड लक्स पर अप्रत्यक्ष वार करते हुए पतंजलि के ऐड में लाइन थी, ‘फिल्मस्टार्स के केमिकल भरे साबुन न लगाओ।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. B
    bitterhoney
    Sep 8, 2017 at 6:46 am
    इस बाबा की भी पोल खुलने वाली है यह भी बड़ा घपलेबाज है. चीन से मंगा कर वस्तुओं को पतंजलि के नाम से बेच रहा है.
    (0)(1)
    Reply
    1. M
      manish agrawal
      Sep 7, 2017 at 10:27 pm
      Ye Baba kyon laga hua hai, Crores of Rupees kamaane main ? Iske na bibi na bachcha ! phir bhi kyon maraa jaa raha hai ? kyon yog sikhate sikhate chaawal, shahad, sarson ka tel, Desi ghee ityaadi bech raha hai ? Ye Baba kya hazaaron Crores ka empire apne saath hi le jaayega kya ?
      (0)(0)
      Reply
      सबरंग