ताज़ा खबर
 

भाजपा ने बजट को बताया ‘नौटंकी’, कांग्रेस ने कहा ‘फर्जी’

प्रदेश भाजपा ने आम आदमी पार्टी के बजट की तीखी आलोचना की है। पार्टी की ओर से जारी बयान में बजट को आम लोगों का विरोधी करार दिया गया है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने दिल्ली सरकार के बजट को नौटंकी करार देते हुए इसे आप पार्टी के चुनावी भाषणों की निरंतरता बताया।
Author June 26, 2015 11:06 am
दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन ने कहा कि आप का बजट उसके कानून मंत्री की डिग्री की तरह ही फर्जी है।

प्रदेश भाजपा ने आम आदमी पार्टी के बजट की तीखी आलोचना की है। पार्टी की ओर से जारी बयान में बजट को आम लोगों का विरोधी करार दिया गया है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने दिल्ली सरकार के बजट को नौटंकी करार देते हुए इसे आप पार्टी के चुनावी भाषणों की निरंतरता बताया।

उपाध्याय ने कहा है कि आम आदमी पार्टी हमेशा कहती थी कि वह मोहल्ला सभा से प्राप्त सुझावों के आधार पर अपना बजट बनाएगी। परंतु जब कथनी को करनी में लागू करने का समय आया तो दिल्ली सरकार ने स्वराज निधि में मात्र 253 करोड़ रुपए आबंटित किए जो कि बजट का केवल 0.65 फीसद है। फ्री वाई-फाई के लिए केवल 50 करोड़ रुपए का प्रावधान करके सरकार ने दिल्ली के युवाओं के साथ भी धोखा किया है। उपाध्याय ने कहा कि वे जानना चाहते हैं कि कैसे 50 करोड़ रुपए में सरकार सभी स्कूलों, कॉलेजों और समस्त ग्रामीण क्षेत्र में वाई-फाई सुविधा मुहैया कराएगी।

बजट में शिक्षा क्षेत्र के लिए 9,000 करोड़ रुपए का प्रावधान भी एक ढोंग प्रतीत होता है। आबंटित बजट का अधिकांश हिस्सा नए भवन बनाने व अध्यापकों की कमी को दूर करने में ही खप जाएगा तो फिर शिक्षा का स्तर सुधारने के लिए कम्प्युटर और कौशल गतिविधियों के लिए आवश्यक तंत्र कहां से उपलब्ध कराया जाएगा। भाजपा ने स्वास्थ्य बजट को भी भ्रामक बताया है। दिल्ली सरकार ने अगले 30 दिनों में 10,000 नए बेड उपलब्ध कराने का दावा किया है। इसका अर्थ है कि हर माह एक नया अस्पताल जबकि बजट में एक भी नए बड़े अस्पताल का कोई प्रावधान नहीं किया गया है।

 

कांग्रेस ने कहा, फर्जी

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन ने कहा कि आप का बजट उसके कानून मंत्री की डिग्री की तरह ही फर्जी है। बजट में दिए गए आंकड़े सच्चाई से परे है और यह बजट भोली भाली जनता को गुमराह करने के लिए सिर्फ झूठ का पुलंदा है। माकन ने कहा कि आप सरकार दलितों, अल्पसंख्यकों, झुग्गी झोपड़ियों, अनाधिकृत कालोनियों में रहने वाले लोगों के वोट हासिल करने के कारण सत्ता में आई थी पर उन लोगों के बारे में ढाई घंटे के बजटीय भाषण में 5 मिनट भी वितमंत्री मनीष सिसोदिया ने नहीं बोला।

अजय माकन ने कहा कि वोट आॅन एकाउन्ट के समय यह बजट 37,750 करोड़ था जबकि अब इन्होंने इसको 42000 करोड़ रुपए रखा है। पिछले वर्ष का टैक्स कलेक्शन 2.6 फीसद था इसलिए बजट साइज 12 फीसद कैसे बढ़ सकता है। आज के बजटीय भाषण में सिसोदिया ने प्राइवेट कंपनियों को सबसिडी देने की बात कही है। इससे चल रहे विकास कार्यों पर गहरा असर पड़ेगा और विकास कार्य ठप पड़ जाएंगे।

माकन ने कहा कि आम आदमी पार्टी के वित्त मंत्री बार-बार इस बजट को स्वराज बजट कहते नहीं थक रहे जबकि 42 हजार करोड़ रुपए में से केवल 253 करोड़ रुपया स्वराज बजट के लिए रखा गया है जो कि ऊंट के मुंह में जीरा के बराबर है। इस बजट में विधायक फंड पर कोई चर्चा नहीं हुई है। माकन ने कहा कि बजट में 30 करोड़ रुपए शिक्षा लोन के लिए रखे गए हैं जिसमें कि 10 लाख तक का लोन एक विद्यार्थी को दिया जा सकेगा। वर्तमान बजट में विद्यार्थियों को दिए जाने वाले लोन ब्याज पर सबसिडी पर कोई चर्चा नहीं है क्योंकि यदि इस सबसिडी की घोषणा होती तो जिन विद्यार्थियों ने पहले से ही लोन ले रखा है उनको बहुत राहत मिलती।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग