March 25, 2017

ताज़ा खबर

 

साइरस मिस्त्री ने टाटा के खिलाफ दायर की मानहानि याचिका

आरोप लगाया गया है कि उन्हें टाटा संस के निदेशक मंडल से हटाने की पहल करके टाटा न्यायाधिकरण के आदेश का उल्लंघन कर रही है।

Author मुंबई | January 11, 2017 22:06 pm
साइरस मिस्त्री को 24 अक्टूबर 2016 को रतन टाटा ने हटा दिया था। (Express photo: Nirmal Harindran/File)

साइरस मिस्त्री के परिवार के स्वामित्व वाली दो निवेश कंपनियों ने बुधवार (11 जनवरी) को राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) में टाटा संस और रतन टाटा समेत उसके निदेशकों के खिलाफ मानहानि की याचिका दायर की। याचिका में आरोप लगाया गया है कि उन्हें टाटा संस के निदेशक मंडल से हटाने की पहल करके टाटा न्यायाधिकरण के आदेश का उल्लंघन कर रही है। याचिका में साइरस इंवेस्टमेंट लिमिटेड और स्टर्लिंग इंवेस्टमेंट ने न्यायाधिकरण से टाटा संस द्वारा छह फरवरी या अन्य किसी तिथि या उस समय किसी तरह के कारोबार करने के लिए बुलाई गई असाधारण आम बैठक पर रोक का आदेश जारी करने की अपील की है।

इसके अलावा कंपनी ने टाटा, और टाटा संस के अन्य निदेशकों और सर रतन टाटा ट्रस्ट और सर दोराबजी ट्रस्ट के न्यासियों को दंड देने की भी मांग की है। ट्रस्टियों में एन. ए. सूनावाला, आर. के. कृष्णकुमार और आर. वेंकटरमण शामिल हैं। कंपनी ने इनके लिए छह महीने की अधिकतम कारावास की सजा और 2000 रुपए जुर्माना अथवा दोनों देने की अपील की है। मिस्त्री की ओर दायर की गई इस याचिका पर प्रतिक्रिया देते हुए टाटा समूह के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘किसी तरह की मानहानि नहीं की गई है। हम अपना जवाब एनसीएलटी में दाखिल करेंगे।’

साइरस मिस्त्री को टाटा इंडस्ट्रीज़ के डायरेक्टर पद से हटाया गया; जनरल मीटिंग में हुआ फैसला

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on January 11, 2017 10:06 pm

  1. No Comments.

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग