December 05, 2016

ताज़ा खबर

 

सरकार के उपायों के बावजूद चना कीमतों में 800 रुपए/क्विंटल की तेजी

मूंग और इसकी दाल छिलका स्थानीय की मांग रही और इनकी कीमत 100-100 रुपए की तेजी के साथ क्रमश: 5,400-6,000 रुपये और 5,900-6,200 रुपये प्रति क्विंटल हो गई।

Author नई दिल्ली | October 23, 2016 15:36 pm
पिछले वित्त वर्ष (2015-16) में करीब 55 लाख टन दाल का आयात किया गया था। (पीटीआई फोटो)

दलहन की बढ़ती कीमतों पर अंकुश लगाने और बाजार में आपूर्ति बढ़ाने के सरकार के तमाम उपाय करने के बावजूद दाल मिलों और फुटकर विक्रेताओं की मांग बढ़ने के बीच स्टॉकिस्टों की सटोरिया लिवाली के कारण बीते सप्ताह दिल्ली के थोक दाल दलहन बाजार में चना कीमतों में 800 रुपए प्रति क्विंटल की पर्याप्त तेजी आई। मजबूती के आम रुख के अनुरूप उड़द, मूंग, राजमा और मोठ जैसे अन्य दलहनों की कीमतों में भी तेजी आई। बाजार सूत्रों ने कहा कि दाल मिलों और फुटकर विक्रेताओं की मांग बढ़ने के बीच आवक में गिरावट के कारण बाजार में स्टॉक की कमी के कारण स्टॉकिस्टों ने सटोरिया लिवाली की जिससे मुख्यत: चना और अन्य दलहनों की कीमतों में जोरदार तेजी आई।

इस बीच, सरकार घरेलू बाजार में आपूर्ति बढ़ाने और कीमतों पर अंकुश लगाने के लिए सरकारी व्यापार उपक्रम एमएमटीसी के जरिये 90,000 टन चना दाल का आयात करेगी। घरेलू आपूर्ति को बढ़ाने और कीमतों को नरम रखने के लिए सरकार ने जिंस एक्सचेंज एनसीडीईएक्स के जरिये अपने बफर स्टॉक से चना दाल की बिक्री करने का फैसला किया है जबकि केवीआईसी के बिक्री केन्द्रों के माध्यम से दलहनों के वितरण करने का विकल्प भी तलाशा जा रहा है।

राष्ट्रीय राजधानी में चना, चना दाल स्थानीय और बेहतरीन क्वॉलिटी की कीमत तेजी दर्शाती क्रमश: 11,000-11,300 रुपए, 11,300-11,600 रुपए और 11,700-11,800 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुई जो पिछले सप्ताहांत क्रमश: 10,300-10,500 रुपए, 10,500-10,800 रुपए और 10,900-11,000 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुई थीं। काबुली चना छोटी किस्म की कीमत तेजी के साथ 10,000-10,400 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुई जो पिछले सप्ताहांत क्रमश: 9,800-10,200 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुई थीं।

बेसन शक्तिभोग और राजधानी की कीमत भी तेजी के साथ क्रमश: 4,860-4,860 रुपये प्रति 35 किग्रा का बैग हो गई जो कीमतें पिछले सप्ताहांत क्रमश: 4,300-4,300 रुपये प्रति 35 किग्रा का बैग थीं। राजमा चित्रा की कीमत भी तेजी के साथ 6,000-8,800 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुई जो कीमत पिछले सप्ताहांत 6,000-8,200 रुपये प्रति क्विंटल थीं। तेजी के आम रुख के अनुरूप उड़द और इसके दाल छिलका स्थानीय की कीमतें भी 200-200 रुपए की तेजी के साथ क्रमश: 7,450-9,050 रुपए और 7,900-8,000 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुई। इसके दाल बेहतरीन क्वालिटी और धोया की कीमतें भी समान अंतर की तेजी के साथ क्रमश: 8,000-8,500 रुपए और 8,400-8,700 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुई।

मूंग और इसकी दाल छिलका स्थानीय की मांग रही और इनकी कीमत 100-100 रुपए की तेजी के साथ क्रमश: 5,400-6,000 रुपये और 5,900-6,200 रुपये प्रति क्विंटल हो गई। मूंग दाल धोया स्थानीय और बेहतरीन क्वालिटी की कीमत भी समान अंतर की तेजी के साथ क्रमश: 6,500-7,000 रुपए और 7,000-7,200 रुपए प्रति क्विंटल हो गई। मोठ की कीमत भी 200 रुपये की तेजी के साथ 4,200-4,500 रुपए प्रति क्विंटल हो गई। दूसरी ओर अरहर और इसकी दाल दड़ा किस्म को मौजूदा स्तर पर प्रतिरोध का सामना करना पड़ा और इनकी कीमत गिरावट के साथ क्रमश: 6,800 रुपये और 8,700-10,500 रुपये प्रति क्विंटल रह गई जो कीमतें पिछले सप्ताहांत क्रमश: 7,150 रुपए और 9,100-10,900 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुई थीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 23, 2016 3:36 pm

सबरंग