ताज़ा खबर
 

ट्रंप की जीत के बाद समलैंगिकों-कर्मचारियों-गोरों को छोड़ बाकी लोगों में अपनी सुरक्षा का डर: नूयी

हिलेरी की हार से इंद्रा नूयी की बेटियों और पेप्सिको के कर्मचारियों में घोर निराशा है।
Author न्यूयॉर्क | November 15, 2016 15:43 pm
पेप्सिको की मुख्य कार्यकारी अधिकारी इंद्रा नूयी। (AP Photo/Manish Swarup/File)

भारत में जन्मी पेप्सिको की मुख्य कार्यकारी अधिकारी इंद्रा नूयी का कहना है कि राष्ट्रपति चुनावों में हिलेरी क्लिंटन की हार और डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति चुने जाने से अमेरिका में उनकी बेटियों, समलैंगिकों, कर्मचारियों और गोरों को छोड़ बाकी लोगों को अपनी सुरक्षा को लेकर ‘गंभीर चिंता’ है। न्यूयॉर्क टाइम्स डीलबुक सम्मेलन में 10 नवंबर को इंद्रा से पूछा गया कि नौ नवंबर को जब ट्रंप की विजय के बारे में उन्हें पता चला तो उन्हें कैसा महसूस हुआ। इसके जवाब में उन्होंने कहा, ‘क्या आपके पास यहां (आंसू पोंछने के लिए) कागज की रुमाल का पैकेट है।’गौरतलब है कि इंद्रा हिलेरी की कड़ी समर्थक हैं। इंद्रा देखने से ही निराश लग रही थी। उन्होंने कहा कि हिलेरी की हार ने उनकी बेटियां और पेप्सिको के कर्मचारियों में घोर निराशा है। कंपनी के कर्मचारियों, विशेषकर अश्वेत कर्मचारियों के मन में ट्रंप के राष्ट्रपति बनने से अमेरिका में अपनी सुरक्षा को लेकर बड़ा भय घर कर गया है। उन्होंने कहा, ‘मुझे अपनी बेटियों और कर्मचारियों के कई प्रश्नों के जवाब देने पड़े थे। वे सभी रो रहे हैं। हमारे सारे कर्मचारी रो रहे हैं। वे प्रश्न पूछ रहे हैं कि क्या अश्वेत, महिलाएं और समलैंगिक समूह के लोग सुरक्षित हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग