April 24, 2017

ताज़ा खबर

 

सचमुच बड़े काम के हैं कार में आने वाले ये 7 फीचर्स

जानते हैं कुछ नई एक्सेसरीज-फीचर्स के बारे में जिन्हें आप अपनी कार में लगाकर बेहतर और सेफ ड्राइव का मजा ले सकते हैं।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतिकात्मक तौर पर। (फाइल फोटो)

हर बढ़ते सेकेंड के साथ टेक्नॉलोजी में भी चौतरफा विकास हो रहा है। गाड़ियों में भी अब नए फीचर्स आ रहे हैं और इन फीचर्स का इस्तेमाल करना अब एक तरह से समय की मांग बन चुका है। जानते हैं ऐसे ही कुछ फीचर्स के बारे में जिन्हें आप अपनी कार में लगाकर बेहतर और सेफ ड्राइव का मजा ले सकते हैं।

रिवर्स कैमरा- अमूमन सभी लोगों को गाड़ी रिवर्स करने में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में रिवर्स कैमरा इस काम में काफी मददगार साबित हो रहा है। यह फीचर अभी से ही कई गाड़ियों में आने लगा है। कैसरा के जरिए कार के डैशबोर्ड में लगी स्क्रीन पर आपको तस्वीरें साफ नजर आती हैं। इससे गाड़ी को रिवर्स करने में भी आसानी होती है और यह सेफटी के लिहाज से भी बेहतरीन है। इस फीचर का खर्चा लगभग 5000 रुपये तक का होता है।

टायर प्रेशर सेंसर- कार का टायर का पन्चर होना हमें सबसे ज्यादा परेशान करता है। ट्यूबलेस टायर्स के भी पंचर होने की संभावना बनी रहती है। ऐसे में टायर सेंसर फीचर बहुत कारगर साबित होगा। इसके जरिए टायर की हेल्थ को आप खुद मॉनिटर कर पाएंगे और अगर कहीं उसके पन्चर होने के हालात होंगे तो इसकी जानकारी आपको पहले से ही मिल जाएगी। यह फीचर कुछ कार्स में कंपनी की तरफ से ही दिया जाता है। वहीं जिनकी कार में यह नहीं है वे इस लगभग 10 हजार रुपये तक खर्च करके लगवा सकते हैं।

ऑटोमैटिक वाइपर्स और हेडलैंप्स- यह फीचर भी अब ज्यादातर गाड़ियों में आने लगे हैं। सेंसर्स बारिश और अंधेरे को भांप लेते हैं जिसके जसके बाद वह अपने आप चालू हो जाते हैं।

गियर शिफ्ट इंडिकेटर- सही स्पीड पर सही गेयर लगाना बेहद जरूरी है। ऐसा नहीं करने से आपकी कार के खराब होने के चान्स बढ़ जाते हैं। गियर शिफ्ट इंडिकेटर आपकी इसी काम में मदद करता है कि आपको कितनी स्पीड पर कौनसे गेयर की जरूरत है।

डोर ओपन अलर्ट- आपकी सेफटी के लिए यह बेहतद जरूरी है कि आप कार का दरवाजा लॉक रखें। यह फीचर किसी मामूली डोर इंडिकेटर की तरह नहीं होगा। इसमें आपको सभी दरवाजों के खुले होने का पता रहेगा और आप सीधे उस डोर को लॉक कर सकेंगे।

एंड्रॉइड ऑटो और एप्पल कारप्ले सपोर्ट- इंफोटेनमेंट सिस्टम्स अमूमन सभी गाड़ियों में आते हैं लेकिन बहुत कम ही अच्छी सर्विस दे पाने में अभी तक कामयाब हो सके हैं। एंड्रॉइड ऑटो और एप्पल कारप्ले आपकी गाड़ी के इस फीचर को बेहतर बना सकते हैं। यह दोनों ही वॉइस कंट्रोल के जरिए कार के नेविगेशन, म्यूजिक, कॉलिंग और मेसेजिंग फीतर्स को डैशबॉर्ड या कार के सिस्टम से ऑपरेट करने में अच्छी सुविधा देता है।

टर्न हेडलैंप्स- ये हेडलैंप्स स्टीयरिंग व्हील को दाएं या बाएं घुमाने पर उसके मुताबिक ही घूमती हैं। यह फीचर उन रास्तों पर कार चलाने में काफी सुविधा और सुरक्षा देता है जहां रात के समय सड़कों पर लाइट्स नहीं होती। इसके अलावा पहाड़ी रास्तों पर भी गाड़ी चलाने में यह काफी मददगार साबित हो सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on January 5, 2017 12:51 am

  1. No Comments.

सबरंग