ताज़ा खबर
 

एमिशन स्कैंडल के बावजूद टोयोटा को पछाड़कर फॉक्सवैगन बनी सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी

टोयोटा ने वर्ष 2016 में दुनियाभर में 1.0175 करोड़ वाहन बेचे हैं जबकि प्रतिद्वंदी कंपनी फॉक्सवैगन के 1.031 करोड़ वाहनों की बिक्री हुई
एमिशन घोटाले के कारण फॉक्सवैगन की सेल में गिरावट देखने जरूर को मिली

ग्लोबल एमिशन स्कैंडल के कारण सेल घटने के बावजूद भी जर्मनी की कार निर्माता कंपनी फॉक्सवैगन चार साल से बाजार पर राज करती आ रही टोयोटा को पछाड़कर 2016 की नंबर एक ऑटोमेकर कंपनी बन गई है। टोयोटा ने वर्ष 2016 में दुनियाभर में 1.0175 करोड़ वाहन बेचे हैं जबकि प्रतिद्वंदी कंपनी फॉक्सवैगन 1.031 करोड़ वाहन की बिक्री के साथ सबसे टॉप पर रही। हालांकि एमिशन घोटाले के कारण फॉक्सवैगन की सेल में गिरावट देखने को मिली और चीन में हुई कार की बिक्री के कारण कंपनी यह मुकाम हासिल कर पाई है।

सात दशकों तक लिस्ट में टॉप पर रहने वाली जनरल मोटर्स ने अभी तक अपने आंकड़े जारी नहीं किए हैं। जनरल मोटर्स अगले हफ्ते अपनी संख्या जारी करेगी और यदि उसके अंकों में गिरावट होती है तो यह पहली बार होगा कि बिक्री के मामले में जर्मनी की कार कंपनी फॉक्सवैगन विश्व स्तर पर पहले पायदान पर होगी। बता दें कि 2011 में टोयोटा ने जनरल मोटर्स से नंबर एक का पायदान हासिल किया था। जापानी कार निर्माता टोयोटा पिछले चार साल से विश्व में पहले स्थान की कंपनी बनी हुई थी।

Tokai टोक्यो रिसर्च इंस्टिट्यूट के एक सीनियर ऑटो एनालिस्ट ने कहा कि इन नतीजों से चीनी मार्केट का महत्व पता लगता है, जहां फॉक्सवैगन ने अपनी कुछ डीजल कारें उतारी थीं। जर्मनी के फॉक्सवैगन ग्रुप में ऑडी, पोर्श और कई अन्य कार निर्माता ब्रांड सम्मिलित हैं, जिन्हें इस उछाल का महत्वपूर्ण हिस्सा माना जा रहा है। विशेषज्ञों की मानें तो फॉक्सवैगन आने वाले कुछ सालों तक इस पायदान पर बनी रह सकती है।

यहां पढ़ें पूरा बजट कवरेज

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.