ताज़ा खबर
 

Hindustan Diamond कंपनी होगी समाप्त, मोदी सरकार ने लिया फैसला

सरकार ने हिंदुस्तान डायमंड कंपनी प्राइवेट लि. (एचडीसीपीएल) को समाप्त करने की प्रक्रिया शुरू करने के प्रस्ताव को आज मंजूरी दी।
Author नई दिल्ली | September 21, 2016 16:56 pm

सरकार ने हिंदुस्तान डायमंड कंपनी प्राइवेट लि. (एचडीसीपीएल) को समाप्त करने की प्रक्रिया शुरू करने के प्रस्ताव को आज मंजूरी दी।
करीब चार दशक पुरानी यह कंपनी सरकार तथा डी बीयर्स सेंटेनरी मारीशस लि. (डीबीसीएमएल) का साझा उद्यम है और इसमें दोनों की 50-50 प्रतिशत हिस्सेदारी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति (सीसीईए) की बैठक में यह निर्णय किया गया।

वाणिज्य मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि सीसीईए ने एचडीसीपीएल को समाप्त करने की प्रक्रिया शुरू करने को मंजूरी दे दी है।
बैठक के बाद जारी इस बयान के अनुसार एचडीसीपीएल को समाप्त करने से भारतीय हीरा कंपनियों को कच्चे हीरे की आपूर्ति प्रभावित नहीं होगी क्योंकि इतने वर्षों में घरेलू हीरा उद्योग विकसित हो चुका हैं और कई भारतीय कंपनियों के पास शीर्ष हीरा उत्पादक कंपनियों के साथ मिल कर हीरे की खानों के पट्टे हैं।

एचडीसीपीएल के गठन का मकसद भारत में हीरा प्रसंस्करण उद्योग खासकर उन लघु एवं मझोले हीरा आभूषण निर्यातकों को कच्चे हीरे की आपूर्ति की एक मजबूत व्यवस्था करना था जो कच्चे हीरे के लिये सीधे लंदन स्थित डायमंड ट्रेडिंग कंपनी (डीटीसी) तक नहीं पहुंच सकती थीं।

डीटीसी, डी बीयर्स की विपणन इकाई है जिसका दुनिया के कच्चे हीरा बाजार में बड़ी हिस्सेदारी है। बयान में यह भी कहा गया है कि कच्चे हीरे की निरंतर आपूर्ति तथा भारत को ‘इंटरनेशनल डायमंड ट्रेडिंग हब’ बनाने के उद्देश्य के लिये सरकार ने पिछले साल मुंबई में भारत डायमंड बोर्स में विशेष अधिसूचित क्षेत्र (एसएनजेड) सृजित किया है। एचडीसीपीएल का गठन कंपनी कानून 1956, के तहत 1978 में किया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.