April 24, 2017

ताज़ा खबर

 

बाबा रामदेव बोले- अविवाहित और बैंक खाता नहीं होने पर अमेरिका ने नहीं दिया था वीजा, बाद में खुद बुलाया

बाबा रामदेव ने हालांकि किस साल यह घटना हुई, इसकी जानकारी नहीं दी। उन्‍होंने कहा, लेकिन जब उन्‍हें मुझे संयुक्‍त राष्‍ट्र के कार्यक्रम के लिए बुलाया तो खुद उन्‍होंने मुझे 10 साल का वीजा दिया।

पतंजलि बिस्कुट बनाने वाली निर्माता कंपनी औऱ पतंजलि प्रोडक्ट बेचने वाले दुकानदार पर जुर्माना लगा । (FilePhoto by Neeraj Priyadarshi/Indian Express)

योग गुरु बाबा रामदेव ने बताया कि उन्‍हें एक बार अमेरिका ने वीजा देने से इनकार कर दिया था। इसका कारण दिया गया कि वे अविवाहित हैं और उनका बैंक अकाउंट नहीं है। लेकिन बाद में उन्‍हें वहां से न्‍योता आया और 10 साल के लिए वीजा दिया गया। बाबा रामदेव ने इंदौर में ग्‍लोबल इंवेस्‍टर समिट में यह खुलासा किया। इस दौरान उन्‍होंने बताया, ”जब मैंने पहली बार अमेरिका के वीजा के लिए अप्‍लाई किया तो मना कर दिया गया। मैंने कारण पूछा तो उन्‍होंने कहा कि बाबाजी आपका बैंक अकाउंट नहीं है और आप अविवाहित हैं। मेरा अब भी बैंक में खाता नहीं है। उन्‍होंने कहा कि इसकी कुछ वजहें हो सकती हैं ले‍किन मैंने किसी भी संभावना से इनकार कर दिया। फिर भी उन्‍होंने वीजा देने से मना कर दिया।” बाबा रामदेव ने हालांकि किस साल यह घटना हुई, इसकी जानकारी नहीं दी।

उन्‍होंने कहा, ”लेकिन जब उन्‍हें मुझे संयुक्‍त राष्‍ट्र के कार्यक्रम के लिए बुलाया तो खुद उन्‍होंने मुझे 10 साल का वीजा दिया। यह अलग मुद्दा है।” रामदेव के साथ मंच पर उद्योगपति अनिल अंबानी, गोपीचंद हिंदुजा के साथ ही वित्‍त मंत्री अरुण जेटली और मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद थे। योग गुरु ने कहा कि आध्‍यात्मिक नेता वैश्विक नागरिक होते हैं। उन्‍होंने कहा, ”वित्‍त मंत्री ने मुझसे कहा कि मैं यहां किस हिसाब से आया। मैं यहां वैश्विक नागरिक होने के नाते हूं।”गौरतलब है कि बाबा रामदेव का पतंजलि ग्रुप देश के कई हिस्‍सों में अपने संयंत्र लगाने की तैयारी में हैं। इसी कड़ी में पतंजलि मध्‍य प्रदेश के धार जिले में 500 करोड़ रुपये के निवेश पर विचार कर रहा है। पतंजलि ग्रुप तेजी से अपना दायरा बढ़ा रहा है। वर्तमान में इस ग्रुप की नेटवर्थ 4500 करोड़ रुपये है।

बाबा रामदेव ने खोला पतंजलि आयुर्वेद की सफलता का राज

बाबा रामदेव ने पिछले दिनों बताया था, ”पतंजलि के पास 20,000 कर्मचारी, 200 वैज्ञानिक और 10 रिसर्च लैब हैं। हमारे उत्‍पाद रिसर्च आधिारित होते हैं। हमारा दंतकांति टूथपेस्‍ट पूरी दुनिया में मशहूर है। हम इस टूथपेस्‍ट की 25 लाख ट्यूब रोजाना बना रहे हैं और जल्‍द ही हम 50 लाख ट्यूब रोजाना उत्‍पादित करने लगेंगे।” रामदेव ने कहा कि अगले 18 महीनों में पतंजलि उत्‍पादों का कुल मूल्‍य 50,000 करोड़ हो जाएगी।

बाबा रामदेव बोले- हाफिज सईद और दाऊद इब्राहिम को भी सर्जिकल स्ट्राइक कर मोक्ष दिलाए सेना

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 22, 2016 7:52 pm

  1. No Comments.

सबरंग