ताज़ा खबर
 

अरुण जेटली बोले- भारत विश्वबैंक में बड़ी भूमिका निभाने को तैयार

जेटली ने वित्त पोषण के नए समाधान की संभावना तलाशने के लिए बैंक से सदस्य देशों के साथ मिलकर काम करने का आह्वान किया।
Author वॉशिंगटन | October 6, 2016 14:38 pm
केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली। (AP Photo/File)

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने गुरुवार (6 अक्टूबर) को कहा कि भारत विश्वबैंक में पूंजी वृद्धि का पुरजोर समर्थन करता है और वह वैश्विक संस्था में गतिशील फॉर्मूले के मुकाबले बड़ी हिस्सेदारी लेने को तैयार है। विश्वबैंक के अध्यक्ष जिम योंग किम के साथ बैठक में जेटली ने विश्वबैंक के गठन के बाद से उसके और भारत के बीच भरोसेमंद और लाभकारी संबंधों का जिक्र किया और वित्त पोषण के नए समाधान की संभावना तलाशने के लिए बैंक से सदस्य देशों के साथ मिलकर काम करने का आह्वान किया। जेटली अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष और विश्वबैंक की सालाना बैठक में भाग लेने के लिए कनाडा से यहां पहुंचे हैं। यहां भारतीय दूतावास द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार वित्त मंत्री ने भारत की विकास प्रक्रिया में कई उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल करने में विश्वबैंक की सहायता की सराहना की। विज्ञप्ति के अनुसार, ‘विश्वबैंक समूह से संबंधित नीतिगत मुद्दों पर चर्चा करते हुए उन्होंने पूंजी वृद्धि के संदर्भ में भारत के पुरजोर समर्थन का संकेत दिया और कहा कि दक्षिण एशियाई देश गतिशील फॉर्मूले के मुकाबले बड़ी हिस्सेदारी लेने को तैयार है।’

विश्वबैंक किसी भी देश की हिस्सेदारी और उसके मत का मूल्य उसके आर्थिक भारांश (जीडीपी पर आधरित) और विकास प्रभाव के आधार पर करता है। जेटली ने इस बात पर भी जोर दिया कि वित्त पोषण समाधान के नए तरीके तलाशने के लिए विश्वबैंक समूह को सदस्य देशों के साथ मिलकर काम करना चाहिए। बाद में शाम को अरुण जेटली अपने सम्मान में आयोजित स्वागत समारोह में अमेरिका के विदेश विभाग के कई अधिकारियों से बातचीत की। आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने अमेरिका के वित्त मामलों के उप-मंत्री नाथन शीट्स के साथ द्विपक्षीय बैठक की। दोनों पक्षों ने अपने-अपने देशों की अर्थव्यवस्था की स्थिति पर बातचीत की। साथ ही एनआईआईएफ, सार्वजनिक ऋण प्रबंधन तथा नगर निकाय बांड पर किए गए तकनीकी सहयोग पर बातचीत की और इन मामलों में हुई प्रगति में और तेजी लाने पर सहमति जतायी। जेटली के साथ रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल, मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमणियम और दास समेत अन्य अधिकारी यहां आए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग