February 26, 2017

ताज़ा खबर

 

तवलीन सिंह के सभी पोस्ट

वक़्त की नब्ज़ : तानों की परवाह क्यों

ऐसा लगने लगा है कि गांधी परिवार के ताने कुछ ज्यादा ही सताने लग गए हैं प्रधानमंत्री को। ऐसा न होता तो कभी सोनिया...

वक़्त की नब्ज़ : प्रशासनिक बदलाव की ज़रूरत

क्या नरेंद्र मोदी भूल गए हैं कि उनको पूर्ण बहुमत क्यों दिया था इस देश के मतदाताओं ने? क्या भूल गए हैं कि वे...

वक़्त की नब्ज़ : आरक्षण और बदले इरादे

शुरू में ही स्पष्ट करना चाहूंगी कि न मुझे हार्दिक पटेल की राजनीति पसंद है, न उनके राजनीति करने का तरीका। लेकिन पिछले हफ्ते...

वक़्त की नब्ज़ : विकास की अहमियत

मुझे विश्वास है कि भारत की हर समस्या का समाधान है विकास। सो, जब प्रधानमंत्री ने इस बात को बिहार में बार-बार कहा पिछले...

वक़्त की नब्ज़ : यह विरोध का तरीका नहीं

पंद्रह अगस्त को नरेंद्र मोदी लालकिले की प्राचीर से राष्ट्र को दूसरी बार संबोधित करने वाले हैं, पर अब भी लगता है कि उनका...

सबरंग