June 24, 2017

ताज़ा खबर
 

जनसत्ता के सभी पोस्ट

सोच की खामी

दिल्ली के अंबेडकर नगर में एक महिला के अपनी तीन बेटियों का गला घोंट कर आत्महत्या के प्रयास के पीछे लड़का न होने के...

राहुल से आशा

आम आदमी पार्टी में खुद केजरीवाल और उनकी टीम की वास्तविकता अब जनता के सामने आ रही है। उधर वादों की जगह जुमले देने...

कीचड़ का हिस्सा

अरविंद केजरीवाल में जरा भी नैतिकता होती तो ऐसी हरकत नहीं करते। राजेश गर्ग के स्टिंग ने उनकी असलियत को बेपर्दा कर दिया है।...

एक ही थैली के

जिन स्थापित दलों को विस्थापित करके आम आदमी पार्टी ने अपनी जगह बनाई थी उन पार्टियों के समर्थक मीडिया हाउसों और उनके बिचौलियों द्वारा...

विकास की शर्त

स्वतंत्रता, समानता और बंधुत्व’ 1789 में शुरू हुई फ्रांस की क्रांति का नारा था। यह नारा तत्कालीन नवोदित पूंजीपति वर्ग का था जो सामंतों...

कोयले के दाग

धीरे-धीरे कोयला घोटाले की आंच बहुत रसूख वाले लोगों तक पहुंच गई है, जिनमें पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी शामिल हैं। मामले की सुनवाई...

मुसीबत की बरसात

पिछले दिनों बेमौसम बरसात से फसलों को हुए नुकसान का मुद्दा बुधवार को लोकसभा में उठा। कुछ सदस्यों ने किसानों के लिए मुआवजे की...

‘आप’ ने खोया आपा: नखलिस्तान से निराशा

जो हुआ वह नहीं होना चाहिए था, लेकिन जो हुआ वही होना था। ‘आप’ ने अपना आपा खो दिया! कहने को पार्टी ने कहा...

अरविंद केजरीवाल महिला दिवस पर: संदेश की संवेदना

महिला दिवस पर अरविंद केजरीवाल का संदेश उनके असावधानीपूर्ण शब्द चयन के कारण स्त्री विमर्श करने वालों के हत्थे चढ़ गया। स्त्री की सहनशीलता...

किताब के चार कदम

पिछले दिनों एक पुस्तक-यात्रा के सिलसिले में उत्तराखंड जाना हुआ। करनाल जनपद से विकास नारायण राय के साथ यात्रा शुरू की तो उत्तराखंड देखने...

केजरीवाल का ऑडियो टैप: क्या सच में मुसलमानों को टिकट नहीं देना चाहती थी आप

दिल्ली में सरकार बनाने के लिए कांग्रेस विधायकों को तोड़ने के बारे में कथित तौर पर अरविंद केजरीवाल के चर्चा करने का टैप आने...

आप का दामन

नौ मार्च के अंक में उर्मिलेश का लेख ‘आप’, वे और हम’ और श्रद्धा उपाध्याय का ‘एक खुला पत्र’ (समांतर) कहीं न कहीं आम...

दुरुस्त आयद

देश में हुए अनेक अध्ययनों में ये तथ्य सामने आ चुके हैं कि ज्यादा से ज्यादा फसलें उगाने के लिए खेती में उर्वरकों पर...

विवाद के बाद

कश्मीर के अलगाववादी नेता मसर्रत आलम की रिहाई को लेकर हुए हंगामे के कारण भाजपा सांसत में थी। पर अब उसने राहत की सांस...

योजना और समाज

नियंत्रक एवं महा लेखा परीक्षक शशिकांत शर्मा का यह सुझाव स्वागत-योग्य है कि सामाजिक क्षेत्र की योजनाओं का सोशल ऑडिट अनिवार्य किया जाना चाहिए।...

मसर्रत आलम रिहाई: अंतर्विरोध को साधने की कवायद

जम्मू-कश्मीर के अलगाववादी नेता मसर्रत आलम की जेल से रिहाई को अस्वीकार करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद में कहा है कि ऐसा...

निर्भया सोलह दिसंबर 2012: रोशनी की राह

निर्भया सोलह दिसंबर 2012 को दिल्ली में एक जघन्यतम अपराध का शिकार होकर मारी गई। उस घटना पर एक वृत्तचित्र बना। उसमें इस मामले...

बचे वक्त में

पेशे से भारतीय प्रशासनिक सेवा में वरिष्ठ पद, शिक्षा से इंजीनियर, मगर शौक से हिंदी साहित्य के पढ़ाकू एक मित्र ने अचानक प्रश्न उछाला...

सबरंग