ताज़ा खबर
 

अश्विनी भटनागर के सभी पोस्ट

मिथक और मानस रचना

हाल के बीते इतिहास में भी कई देवी-देवताओं के मिथक जो सुप्त थे, जागृत हो कर हमारी जीवन शैली का ऐसा हिस्सा बन गए...

तीरंदाज- बहुसंख्यकवाद का रास्ता

वास्तव में बहुसंख्यकवाद के जनक राजीव गांधी और कांग्रेस पार्टी है। 1984 से पहले हिंदू वोट को एकजुट करने की कोशिश बड़े पैमाने पर...

निजता का आधार

इधर नौकरी-पेशा होने के नाते पिछले वर्षों में कई पहचान पत्र अलग-अलग संस्थाओं ने बनवा कर दिए हैं, जिनको मशीन पर चिपकाने से कई...

तीरंदाज- डोकलाम की बिसात

यह स्वाभाविक है कि लद्दाख में घुसपैठ की कोशिश के बाद वह डोकलाम जैसे संवेदनशील इलाके में अपनी स्थिति मजबूत करने की कोशिश करेगा...

हरकत में बरकत

यूरोप के कई देश जैसे ब्रिटेन, फ्रांस, पुर्तगाल, स्पेन, जर्मनी और यहां तक कि बेल्जियम और आस्ट्रिया विश्व मंच पर अपना दबदबा तभी बना...

तीरंदाज- चीन की सीनाजोरी

चीन के राष्ट्रपति भारत में दोस्ताना निभाने जब दाखिल हुए तो चुपचाप पीछे चीनी फौज लद्दाख के चूमर इलाके में घुस गई और अपना...

तीरंदाज: संवाद का राजधर्म

अगर देखा जाए तो महाभारत के सौ कौरव और पांच पांडव प्रतिभावान लोग थे। मिल कर या फिर अलग-अलग भी उनमें प्रजाहित करने...

लकीर अपनी अपनी

अमेरिका में डोनाल्ड टंप के राष्ट्रपति बनने से उस देश का इस्लाम के प्रति रवैया बहुत हद तक साफ हो गया है। ट्रंप ने...

तीरंदाज- चक्कर घनचक्कर

एक दिन पंडित जी एक सेंटेंस बोले और फिर कहा सेमी कोलन। हमसे न रहा गया और हमारे मुंह से निकल गया, नहीं चचा...

तीरंदाज- वास्तविक पहलवान आभासी अखाड़ा

ट्विटर पर आपको गंवार भी उतने ही मिलेंगे, जितने कि सयाने बुद्धिजीवी। अंधभक्त भी उतने ही हैं, जितने कि अनीश्वरवादी।

समकाल में महाभारत

से तो इस महाकाव्य की कहानियां और उनमें बसे चरित्र हमारे जीवन का हिस्सा हैं, पर महाभारत के कई और आयाम भी हैं, जिनको...

तीरंदाज- उदारवाद बनाम कट्टरपंथ

1979 में तेहरान के पहलवी राजवंश को इस्लामिक क्रांति ने सत्ता विहीन कर दिया और यकायक तरक्की पसंद ईरान कट्टरवादी इस्लाम के साथ हो...

तीरंदाज: विचारों के टकराव में बिखरती दुनिया

वास्तव में आज हमारे आपके सामने और पूरी दुनिया के सामने एक भयावह स्थिति मुंह बाए खड़ी है।

तीरंदाज़ : अपने-अपने समीकरण

भाजपाइयों को मोदी-शाह पर उतना ही भरोसा है, जितना तुलसी को राम-लक्ष्मण पर था। पर क्या उनकी व्यक्तिगत लोकप्रियता विधानसभा के प्रत्याशियों की झोली...

तीरंदाज: नएपन की तलाश

संपूर्ण क्रांति आई और चली गई। साए में भी धूप लगने लगी, दीवारें पर्दे की तरह हिलती रहीं और लोग पेट और पीठ के...

तीरंदाज: तंगी में शाहखर्ची

नोटबंदी से मैं खुश हूं। खर्चा कर-कर के परेशान हो गया था। नोट आते थे और बंद मुट्ठी की रेत की तरह फिसल जाते...

तीरंदाजः श्रेष्ठता के दंभ में भटकता समाज

सर्वोत्तम श्रेष्ठ आज भी हमारे लिए एक लक्ष्य हो सकता है, पर उसके लिए भूमि तैयार करनी होगी। आर्थिक उन्नति उसकी पहली सीढ़ी है।...

तीरंदाज: पुराना बनाम नया अमेरिकी जनतंत्र

अमेरिका की सड़कें नोएडा-आगरा एक्सप्रेस-वे की तरह हैं। एक बार कार चल पड़ी तो तीर की तरह छूट जाती है।

सबरंग